क्या आपको पता है आज ट्विटर पर ” #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ ” क्यों ट्रेंड कर रहा था ?

आज सोशल मीडिया पर लाखों लोगों ने श्रीमद्भगवद्गीता की भूरी-भूरी प्रशंसा की!!
गीता मात्र हिन्दुओं का ही धर्मग्रंथ नहीं है, बल्कि मानवमात्र का धर्मग्रंथ है ।
 गीता ने किसी मत, पंथ की सराहना या निंदा नहीं की अपितु मनुष्यमात्र की उन्नति की बात कही ।
ऐसे अद्भुत ग्रन्थ की केवल भारत के ही नही अपितु विदेश के बुद्धिजीवी लोगों ने भी भूरी-भूरी प्रशंसा की है । केवल प्रशंसा ही नही की, उन्होंने गीता का ज्ञान जीवन में उतारकर अपने को धन्य-धन्य  किया है ।
आज भी ऐसा ही अद्भुत नजारा ट्वीटर पर देखने को मिला ।
लाखों लोग गीता जयंती निमित्त #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ हैशटैग के साथ ट्वीट कर रहे थे जो दिनभर टॉप में बना रहा ।
आइये देखते हैं कि लोग क्या लिख रहे थे ट्वीटस में…
do-you-know-why-bhagwatgeeta_adbut_grantha-was-trending-on-twitter
1. शेखर गड़ेवार लिखते हैं कि भारतीय संतों को नमन, जिन्होंने गीता के ज्ञान सुवास से 5000 साल तक समाज को महकाएं रखा !
#भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ
2. पूजा पंडा ने लिखा है कि समस्त विश्व के लिये सच्चे सुख, शांति व ज्ञान के लिये भारत की अनमोल भेंट #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ
3. संजय राय ने लिखा कि #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ के ज्ञानजन्य सुख के आगे त्रिलोक का तमाम सुख तुच्छ है।
4. दीपा गुर्जर लिखती हैं कि जन-जन को कर्म योगी बनाना है तो विद्यार्थियों को #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ का महत्व समझाएं – Asaram Bapu Ji
5.  भवन उत्तरज ने लिखा कि #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ की विशालता इतनी मनोमय है, चित वृति शांत कर, लगाती हरि चरणों में, जो मानव जीवन का ध्येय है।
6. रूपल गुरनानी लिखती हैं कि #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ के अभ्यास से हजारों विद्यार्थियों का भविष्य उज्ज्वल हो रहा है Asaram Bapu Ji के गुरुकुलों में !!
7. अरुणेश शर्मा ने लिखा कि
कर्मफल को सहज-सरलता से समझना हो तो सिर्फ एक मात्र ग्रंथ है और वो है- श्रीमद् #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ
8.अमित सोनी लिखते हैं कि
#भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ उपनिषदों का अमृत है, धरती पर जीवों का उद्धार करने वाला विष्णु जी का चरणामृत है।
9.प्रीति ने लिखा है कि Asaram Bapu Ji के दिव्य सत्संग में करोड़ो-करोड़ो लोगों ने सहजता से सीखा #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ का ज्ञान ।
10.यग्नेश जी लिखते हैं कि भगवत् गीता एक अदभुत ग्रंथ है। जिसे स्वयं भगवान् कृष्ण ने उच्चारण किया है॥
ये तो आपको केवल कुछ ट्वीट्स बताई गई हैं ऐसे लाखों लोग ट्वीटस करके श्रीमद्भगवद्गीता की भूरी-भूरी प्रशंसा कर, बताना चाह रहे थे कि उनको गीता के ज्ञान से कितना अद्भुत लाभ हुआ है।
और बड़े आश्चर्य की बात ये थी कि ट्रेंड में देखा गया तो बापू आसारामजी के अनुयायी ही दिनभर ट्वीट कर रहे थे जिससे ट्रेंड भारत में टॉप पर बना रहा ।
और उनकी कुछ ट्वीट देखने पर पता चला कि वो केवल सोशल मीडिया पर ट्वीट्स ही नही कर रहे थे बल्कि विद्यालयों में और घर-घर जाकर निःशुल्क गीता भी बाँट रहे थे और गीता की महिमा भी बता रहे थे ।
भोग, मोक्ष, निर्लेपता, निर्भयता आदि तमाम दिव्य गुणों का विकसित करनेवाला यह गीताग्रंथ विश्व में अद्वितीय है ।
गीता में 18 अध्याय, 700 श्लोक, 94569 शब्द हैं और 578 से अधिक भाषाओं में गीता का अनुवाद हो चुका है ।
संसारिक दुनिया में दुख, क्रोध, अंहकार ईर्ष्या आदि से पीड़ित आत्माओं को गीता सत्य और अध्यात्म का मार्ग दिखाती है।
ऐसा ‘वसुधैव कुटुम्बकं’ की सीख देता #भगवद्गीता_अदभुत_ग्रंथ को शत्-शत् नमन।
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s